Sultanpur Accident: Four Killed In A Collision Between A Container And A Car On Purvanchal Expressway – Sultanpur Accident : पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर कंटेनर और बीएमडब्ल्यू में भीषण टक्कर, चार की मौत


बाद क्षतिग्रस्त कंटेनर और कार
– : उजाला

सुनें

पर शुक्रवार दोपहर बाद भीषण हादसा हो गया। कंटेनर और बीएमडब्ल्यू कार की आमने-सामने की टक्कर में कार सवार चार लोगों की मौेके पर ही मौत हो गई। बाद कंटेनर का चालक फरार हो गया। बिहार के रहने वाले हैं। तीन मृतकों की शिनाख्त हो चुकी है, जबकि एक शव की पहचान नहीं हो सकी है। सूचना के बाद डीएम और एसपी भी मौके पर पहुंचे और घटना स्थल की जांच की।

अक्तूबर की रात हलियापुर के पास माइल स्टोन 83 किमी. एक्सप्रेसवे अचानक धंस गया था। ने गड्ढे को भरवाकर उधर से बड़े वाहनों का आवागमन रोक दिया था। तब से एक ही लेन से अप और डाउन दोनों वाहनों को निकाला जा रहा था। को अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे एक कंटेनर अपने दाहिने की लेन से निकल रहा था। इसी बीच सामने से आ रही बीएमडब्ल्यू कार से उसकी आमने-सामने भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए और कंटेनर का अगला हिस्सा टूटकर दूर जा गिरा। कार सवार चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना मिलते ही डीएम रवीश गुप्ता, एसपी सोमेन बर्मा, एसडीएम वंदना पांडेय, सीओ बल्दीराय राजाराम चौधरी, यूपीडा के कंट्रोल रूम प्रभारी ओपी सिंह भी मौके पर पहुंच गए। कार में मिले मोबाइल व कागजात के आधार पर शवों की शिनाख्त आनंद प्रकाश (35) पुत्र डॉ. निर्मल सिंह निवासी डेहरी ओनसोन बिहार, अखिलेश सिंह (35) पुत्र अज्ञात निवासी औरंगाबाद बिहार, दीपक कुमार (37) पुत्र अज्ञात निवासी औरंगाबाद बिहार के रूप में हुई जबकि एक शव की पहचान नहीं हो सकी। ने बताया कि बीएमडब्ल्यू कार मालिक जिंदल पब्लिक स्कूल ताली रिवनी मझानी रानीखेत अलमोडा उतराखंड का है। बिहार से दिल्ली अपने दोस्त के यहां जा रहे थे। कंटेनर मालिक कयूम पुत्र आयुब निवासी मोहल्ला मनिहारन निकट राजा मस्जिद थाना भोजपुर जिला मुरादाबाद का बताया जा रहा है। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।

वजह तेज रफ्तारः डीएम
I स्थल पर पहुंचे डीएम ने बताया कि प्रथम दृष्टया जांच में पाया गया है कि बीएमडब्ल्यू कार की रफ्तार काफी तेज थी। मामले की जांच की जा रही है। के कंट्रोल रूम प्रभारी ओपी सिंह ने बताया कि हादसे की जांच शुरू कर दी गई है।

पशु तस्करी में शामिल होने के संकेत
के बाद अधिकारियों ने कंटेनर का ताला खुलवाकर जांच की। जांच में पाया गया कि उसके अंदर मवेशियों को लादने के लिए पटरा लगाया गया था। इसी तरह से मवेशियों को लादकर गैंर प्रांत ले जाते हैं।

कूदकर पैदल ही भागते दिखे तीन लोग
के बाद कंटेनर से तीन लोग कूद कर हलियापुर की ओर पैदल ही भागते देखे गए। के वक्त मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों ने घटना स्थल की जांच करने पहुंचे अधिकारियों को इसकी जानकारी दी। जानकारी के बाद हलियापुर थाने की पुलिस ने क्षेत्र में भागने वाले लोगों की खोजबीन शुरू कर दी है।

विस्तार

पर शुक्रवार दोपहर बाद भीषण हादसा हो गया। कंटेनर और बीएमडब्ल्यू कार की आमने-सामने की टक्कर में कार सवार चार लोगों की मौेके पर ही मौत हो गई। बाद कंटेनर का चालक फरार हो गया। बिहार के रहने वाले हैं। तीन मृतकों की शिनाख्त हो चुकी है, जबकि एक शव की पहचान नहीं हो सकी है। सूचना के बाद डीएम और एसपी भी मौके पर पहुंचे और घटना स्थल की जांच की।

अक्तूबर की रात हलियापुर के पास माइल स्टोन 83 किमी. एक्सप्रेसवे अचानक धंस गया था। ने गड्ढे को भरवाकर उधर से बड़े वाहनों का आवागमन रोक दिया था। तब से एक ही लेन से अप और डाउन दोनों वाहनों को निकाला जा रहा था। को अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे एक कंटेनर अपने दाहिने की लेन से निकल रहा था। इसी बीच सामने से आ रही बीएमडब्ल्यू कार से उसकी आमने-सामने भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए और कंटेनर का अगला हिस्सा टूटकर दूर जा गिरा। कार सवार चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना मिलते ही डीएम रवीश गुप्ता, एसपी सोमेन बर्मा, एसडीएम वंदना पांडेय, सीओ बल्दीराय राजाराम चौधरी, यूपीडा के कंट्रोल रूम प्रभारी ओपी सिंह भी मौके पर पहुंच गए। कार में मिले मोबाइल व कागजात के आधार पर शवों की शिनाख्त आनंद प्रकाश (35) पुत्र डॉ. निर्मल सिंह निवासी डेहरी ओनसोन बिहार, अखिलेश सिंह (35) पुत्र अज्ञात निवासी औरंगाबाद बिहार, दीपक कुमार (37) पुत्र अज्ञात निवासी औरंगाबाद बिहार के रूप में हुई जबकि एक शव की पहचान नहीं हो सकी। ने बताया कि बीएमडब्ल्यू कार मालिक जिंदल पब्लिक स्कूल ताली रिवनी मझानी रानीखेत अलमोडा उतराखंड का है। बिहार से दिल्ली अपने दोस्त के यहां जा रहे थे। कंटेनर मालिक कयूम पुत्र आयुब निवासी मोहल्ला मनिहारन निकट राजा मस्जिद थाना भोजपुर जिला मुरादाबाद का बताया जा रहा है। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।

वजह तेज रफ्तारः डीएम

I स्थल पर पहुंचे डीएम ने बताया कि प्रथम दृष्टया जांच में पाया गया है कि बीएमडब्ल्यू कार की रफ्तार काफी तेज थी। मामले की जांच की जा रही है। के कंट्रोल रूम प्रभारी ओपी सिंह ने बताया कि हादसे की जांच शुरू कर दी गई है।

पशु तस्करी में शामिल होने के संकेत

के बाद अधिकारियों ने कंटेनर का ताला खुलवाकर जांच की। जांच में पाया गया कि उसके अंदर मवेशियों को लादने के लिए पटरा लगाया गया था। इसी तरह से मवेशियों को लादकर गैंर प्रांत ले जाते हैं।

कूदकर पैदल ही भागते दिखे तीन लोग

के बाद कंटेनर से तीन लोग कूद कर हलियापुर की ओर पैदल ही भागते देखे गए। के वक्त मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों ने घटना स्थल की जांच करने पहुंचे अधिकारियों को इसकी जानकारी दी। जानकारी के बाद हलियापुर थाने की पुलिस ने क्षेत्र में भागने वाले लोगों की खोजबीन शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *