tn seshan and lalu prasad yadav, टीएन शेषन का नाम सुनते ही आग-बबूला हो जाते लालू यादव, बूथ लुटेरों की बंध जाती घिग्घी…तभी तो सुप्रीम कोर्ट ने किया याद – tn seshan was the father of election reform process in india

Functions: पूर्व चुनाव आयुक्त टी एन शेषन को इस दुनिया से विदा हुए तीन साल साल से ज्यादा का वक्त बीत बीत है है ड्यूटी के प्रति उनकी वफादारी की किस्से तब तक जबतक भारत भारत में लोकतंत्र रहेगा।।।।।।।।।।।।।।।।।। अब मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने को टीएन शेषन को याद याद किया ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।। देश सबसे बड़ी अदालत अदालत ने कहा कहा कि संविधान संविधान ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त और और दो निर्वाचन निर्वाचन आयुक्तों आयुक्तों के नाजुक कंधों कंधों पर बहुत जिम्मेदारियां सौंपी हैं और वह मुख्य चुनाव आयुक्त तौर टी की तरह तरह के के सुदृढ़ चरित्र वाले व्यक्ति को को चाहता।।।।।।।।।। है है है है है है है है सुप्रीम की ओर से कही गई गई ये लाइनें बताती हैं कि टीएन शेषन ने मुख मुख्य आयुक्त रहते हुए कितनी लंबी गए गए गए हैं ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं

Do you have a problem with your company?
सुप्रीम को को ने टीएन टीएन शेषन का जिक्र करते हुए कहा कहा कहा कहा अनेक मुख्य निर्वाचन आयुक्त हुए हैं हैं टी एन शेषन शेषन हुए हुए हुए हुए हुए हैं हैं ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं हैं और और मुख्य मुख्य निर्वाचन आयुक्त आयुक्त आयुक्त कमजोर पर पर बड़ी है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है more हमें निर्वाचन आयुक्त के पद के लिए स सर्वश् सर्वश् व्यक्ति व्यक्ति को होगा।।।।।।।।। सवाल कि हम स स ie स स स ie ike व्यक्ति चुनें चुनें और कैसे कैसे औ नियुक्त करें।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ‘उन्होंने कि किसी को इस पर आपत्ति नहीं हो सकती और उनके विचार से सरकार भी सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति की नियुक्ति का विरोध नहीं करेगी करेगी सवाल यह है कि कैसे किया जा है।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।

पीठ कहा कि कि 1990 से वर्गों से निर्वाचन आयुक्तों समेत संवैधानिक निकायों के लिए लिए कॉलेजियम जैसी जैसी जैसी जैसी जैसी में न्यायमूर्ति न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी न्यायमू न्यायमू न्यायमू ike अनिरुद्ध बोस ऋषिकेश रॉय और न्यायमू न्यायमू न्यायमू सी टी रविकुमार श श word ।।

बता शेषन केंद्र सरकार में पूर्व कैबिनेट सचिव थे थे और उन्हें उन्हें 12 दिसंबर, 1990 को निर्वाचन आयुक्त नियुक्त नियुक्त किया गया था।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। on December 11, 1996 on January 10, 2019 in the US

How to earn your money
1990 के में बिहार में निष्पक्ष चुनाव कराना बेहद कठिन था।।।।।।।।। What’s the best way to make money? निष्पक्ष कराना इसलिए मुश्किल था क्योंकि बूथ कैप्चरिंग में कहीं ना कहीं राजनीतिक राजनीतिक पार पार पार ं भी शामिल थीं ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। टीएन ने अपने चुनाव सुधार अभियान की शुरुआत 1995 के विधानसभा चुनाव से की थी थी ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। इस से दौर में आरजेडी सुप्रीमो और बिहर बिहार की सत्ता पर लालू प्रसाद यादव और टीएन शेषन शेषन में तल तल तल Ct

How to earn your money
1995 के विधानसभा चुनाव के बाद लालू प्रसाद यादव शेषन का नाम तक नहीं सुनना चाहते थे ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। ।।।।। पत्रकार ठाकुर की किताब किताब बंधु बिहारी बिहारी में टीएन से लालू की अदावत के कुछ दिलचस्प किस्से हैं ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। चुनाव दौरान ही शेषन और लालू के बीच जो भी हुआ हुआ हुआ कहानी पत्रकार संकर्षण ठाकुर ने अपनी किताब किताब बंधु बिहारी में में है।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। है है है है है है चुनाव दौरान हर सुबह अपने आवास पर होने वाली अनौपचारिक बैठकों में लालू के गुस् गुस् के केंद्र शेषण ही होते थे थे ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।। थे।।।। थे।।। थे थे।। ऐसी एक बैठक में में उन्होंने कहा था था शेषन पगला सांड जैसा कर रहा है।।।।।।।। मालूम है कि हम स रस्सा बांध के खटाल में बंद कर सकते ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ‘संकर्षण ने लिखा है कि लालू यादव उन शेषन शेषन को अपने अंदाज में कोसते कोसते ike थे ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। लालू थे कि शेषनवा शेषनवा को भैंसिया पे चढ़ाकर गंगाजी में हेला देंगे।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।

संकषर्ण लिखते हैं कि लालू यादव का गुस् गुस् गुस् तब चरम पर था था शेषन ने चुनाव को चौथी बार स्थगित कर दिया।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। How does it work? लालू ने बिहार के तत्कालीन मुख्य निर्वाचन अधिकारी आरजेएम को फोन किया और उनपर उनपर जमकर ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। ।।।। लालू तब पिल्लई से कहा था कि कि पिल्लई पिल्लई, तुम्हारा चीफ मिनिस्टर और तुम हमा हमा word अफसर।।।।।।।।।।।।।।।।।। What are the chances of you making money? फैक्‍स भेजता from I would like to know how it works’

मुख्य आयुक्त की नियुक्ति पर सुप्रीम कोर्ट के केंद्र से कड़े सवाल सवाल जानिए संविधान क्या कहता है है है है है है है हैटी.एन.शेषन का जीवन परा

  • टी.एन.शेषन का जन्म 15 दिसंबर, 1932 को पलक्कड़ (केरल) एे एे cters
  • शेषन स्कूली पढ़ाई बेसल इवैंजेलिकल मिशन हायर सेकंड्री स्कूल से और और इंटरमीडिएट विक्टोरिया कॉलेज कॉलेज कॉलेज पलक्कड़ से ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।
  • How does it work? उन्होंने साल के कोर्स को तीन स सालों में ही पूरा कर लिया।।।।।।।। How to earn your money
  • 60 के दशक में वैज्ञानिकों के लिए जॉब के मौके बहुत कम कम थे।।।।।।।।। इस से उन्होंने मद्रास क्रिस्चन कॉलेज में ही ही ही 1952 से शुरू कर दिया।।।।।।।।।।।।
  • मद्रास कॉलेज में पढ़ाने के दौरान वह भारतीय प्रशासनिक सेवा की तैयारी करते ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।।
  • 1953 में शेषन ने पुलिस सेव सेवा परीक्षा में टॉप किया और और 1954 में प्रशासनिक सेवा के लिए होने वाली परीक्षा क्लियर ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। ।।। 1955 में भारतीय प्रशासनिक सेवा सेवा (आईएएस) में के तौर पर अपने करिय करिय ike की शुरुआत की ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।
  • शेषन पहली तैनाती तमिलनाडु के मदु मदु ie जिले डिंडीगुल में में सब कलेक कलेक्टर के तौर पर हुई ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। ।। उसके से टीएन शेषन ने ने प्रशासनिक अफसर के के के में ऐसी मिसाल की जिसे जिसे अगले कई वर्षों तक याद किया जा जाता रहेगा।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।

ऐसे चुनाव of the cost
प्रधानमंत्री चंद्रशेख चंद्रशेख की सरकार में सुब्रमण्यम स्वामी कानून मंत्री ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। How to earn your money इसी सुब्रमण्यम स्वामी ने टीएन को को मुख्य चुनाव आयुक्त का पद ऑफर किया।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।। पहले उन्होंने इस ऑफर को ठुकरा दिया दिया लेकिन बाद में उन्होंने यह पद स्वीकार कर लिया।।।।।।।।।।।। टीएन ने दिसंबर दिसंबर 1990 में के के मुख्य चुनाव आयुक्त का प्रभार संभाल लिया।।।।।।।।।।।।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *